संपादकीय:Editorials (English & Hindi) Daily Updated

Category: हिंदी संपादकीय

अपराध और दंड (जनसत्ता)

बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और राष्ट्रीय जनता दल के अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव को चारा घोटाले के एक और मामले में सजा सुनाया जाना एक महत्त्वपूर्ण राजनीतिक घटना है। हमारे देश में ताकतवर आरोपियों के खिलाफ चल रहे मामलों का अंजाम तक पहुंच पाना विरल ही रहा है। इसका अंदाजा विधायिका में शामिल अनेक लोगों […]

संपादकीय: लोकायुक्त की सुध (जनसत्ता)

भ्रष्टाचार से निपटने और प्रशासन को पारदर्शी बनाने के तकाजे पर हमारी सरकारें कितनी संजीदा हैं इसकी एक बानगी लोकायुक्त की नियुक्ति के मामले में सरकारों के रवैए से मिल जाती है। एक याचिका पर सुनवाई करते हुए पिछले हफ्ते सर्वोच्च न्यायालय ने एक केंद्रशासित प्रदेश और ग्यारह राज्यों के मुख्य सचिवों को नोटिस जारी […]

सस्ते-महंगे शहर (नवगुजरात समय)

दुनिया के सबसे महंगे शहर सिंगापुर में एक किलो ब्रेड की कीमत 241 रुपए है। दुनिया के सबसे सस्ते शहर दमिश्क में यही ब्रेड 38 रुपए में मिलती है। दिल्ली-एनसीआर में एक किलो ब्रेड के पैकेट नहीं आते, आधा किलो का पैकेट 30-32 रुपये का पड़ता है। इकनॉमिस्ट इंटेलिजेंस यूनिट (ईआईयू) ने दुनिया के सबसे महंगे […]

प्रदूषण के विरुद्ध (नवभारत टाइम्स)

दिल्ली की आम आदमी पार्टी सरकार ने वर्ष 2018-19 के अपने बजट को ‘ग्रीन बजट’ का रूप देकर जो नई पहलकदमी की है, उसका स्वागत किया जाना चाहिए। पहली बार भारत की किसी सरकार ने प्रदूषण की जानलेवा समस्या पर अपनी शक्ति भर पैसा लगाया है। यह इस बात का संकेत है कि केजरीवाल सरकार प्रदूषण को बात-बहादुरी […]

उत्पीड़न और गिरफ्तारी(नवभारत समाचार)

सुप्रीम कोर्ट ने एससी/एसटी (प्रिवेंशन ऑफ अट्रॉसिटीज) एक्ट के बड़े पैमाने पर हो रहे दुरुपयोग को रोकने के लिए इसके साथ कई नए प्रावधान जोड़े हैं। अब इस कानून के तहत दर्ज किए गए मामलों में अग्रिम जमानत मिल सकेगी। ऐसे मामलों में शिकायतें आने पर अब अपने आप गिरफ्तारी नहीं होगी। संबंधित इलाके का […]

टीबी से जंग, टीबी की बीमारी बनी हिमाचल प्रदेश की सरकार के सामने एक बड़ी चुनौती है(दैनिक जागरण)

टीबी (तपेदिक) की बीमारी हिमाचल प्रदेश के लोगों के लिए बड़ी चुनौती है। सरकारी प्रयास व जागरूकता अभियानों के बावजूद मरीजों के आंकड़े में वृद्धि होना बताता है कि इसके समूल नाश के लिए प्रयासों में और तेजी लाने के साथ लोगों को जागरूक करने की बड़ी जिम्मेदारी सबको उठानी होगी। प्रदेश में औसतन हर […]

आज भी शुद्ध पेयजल से वंचित हैं 7.5 करोड़ हिंदुस्तानी(नवभारत समाचार)

यह एक कड़ी चेतावनी है, जिसे गंभीरता से लेने के अलावा और कोई चारा ही नहीं है। यूनेस्को की एक रिपोर्ट के मुताबिक 2050 तक भारत में भारी जल संकट आने वाला है। अनुमान है कि तीसेक सालों में देश के जल संसाधनों में 40 फीसदी की कमी आएगी। देश की बढ़ती आबादी को ध्यान […]

संपादकीय: गरिमा के खिलाफ(जनसत्ता)

हैरानी की बात यह है कि आठ छात्राओं की शिकायत के बावजूद पुलिस ने पहले अतुल जौहरी को गिरफ्तार करने की जरूरत नहीं समझी थी। जब जेएनयू के विद्यार्थियों और दूसरे संगठनों का विरोध तेज होने लगा, तब जाकर जौहरी को गिरफ्तार किया भी गया तो उसी दिन जमानत भी मिल गई। हालांकि जौहरी ने […]

मानव तस्करी पर लगे रोक(दैनिक जागरण)

झारखंड में मानव तस्करी धड़ल्ले से जारी है। पश्चिम सिंहभूम, सरायकेला-खरसावां, खूंटी, गुमला, रांची, गढ़वा, साहिबगंज, सिमडेगा, गोड्डा, लातेहार और लोहरदगा जैसे कई जिले मानव तस्करी के गढ़ बन गए हैं। इन जिलों से तस्कर हर दिन गरीब युवतियों और बच्चों को रोजगार दिलाने के नाम पर दिल्ली, चेन्नई, मुंबई समेत अन्य महानगरों में भेज […]

पंजाब विधानसभा की मर्यादा फिर हुई तार-तार, सत्ता पक्ष और विपक्ष में खूब तू-तू, मैं-मैं हुई (दैनिक जागरण)

किसी भी राज्य की विधानसभा व सदन की गरिमा होती है। वहां पर जनप्रतिनिधि जनहित के मसलों को सुलझाते हैं, उन पर चर्चा करते हैं। मुद्दों पर कई बार बहस भी होती है। बहस का मतलब यहां पर गालीगलौज नहीं होता बल्कि मर्यादित भाषा में एक दूसरे के सवालों का जवाब देना होता है। लेकिन […]

संपादकीय:Editorials (English & Hindi) Daily Updated © 2018 Frontier Theme